जीरो का आविष्कार किसने और कब किया ZERO Ki Khoj Kisne Kiya

Zero का आविष्कार किसने किया, शून्य की खोज कब हुई– आज के इस पोस्ट में हम आपलोगो के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आए है। हम आपके लिए शून्य की खोज कब हुई इस बारे में पूरी जानकारी लेकर आए है। जैसा की बहुत से छात्रो को इस बारे में जानकारी नही है। और यह काफी महत्वपूर्ण है। तो आपलोग लेख को पूरा पढें। तो आपको पता चल जाएगा की आखिर शून्य की खोज किसने और कब की थी अगर आपलोग प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी कर रहे है। तो आपको यह Questions को याद रखना काफी जरुरी है। क्योकी यह बहुत से परीक्षा में पूछा जा चुका है। तो दोस्तो नीचे दिए गए जानकारी को ध्यान पूर्वक पढें।

शून्य की खोज किसने की

जीरो का आविष्कार किसने और कब किया

शून्य का आविष्कार गणित के इतिहास में एक महान खोज है और यह दुनिया में होने वाले कुछ महान अविष्कारों में से एक है शून्य केअविष्कार की गणित में अत्यन्त महत्वपूर्ण भूमिका है। पूर्णांकों तथा वास्तविक संख्याओं के लिये यह योग का तत्समक अवयव (Additive Identity) है शून्य की सबसे खास बात यह की किसी भी संख्या को शून्य से गुणा करने से शून्य प्राप्त होता है और किसी भी संख्या को शून्य से जोड़ने या घटाने पर वापस वही संख्या प्राप्त होती है

और शून्य के पीछे लगे बिना कोई संख्या बड़ी नहीं बन सकती एक में शून्य लगाइए तो दस हो जाता है और शून्य बढ़ाते जाइए संख्या बड़ी होती जाएगी सैकड़ा, हजार, लाख, दस लाख, करोड़, दस करोड़, अरब और फिर खरब है यदि शून्य काअविष्कार नही होता तो शायद इतनी बड़ी संख्या नही होती और गणित  को हल करना भी बड़ा मुस्किल होता  इसलिए शून्य के अविष्कार को इतना महवपूर्ण माना जाता है

जीरो का आविष्कार

जीरो का आविष्कार किसने किया यह आज भी ठीक तारिके से पता नही चल पाया भरतीय गणितज्ञो का दावा है। इसकी खोज आर्यभट्ट ने की थी की शून्य का आविष्कार भारत में पांचवीं शताब्दी के मध्य में शून्य का आविष्कार आर्यभट्ट जी ने किया उसके बाद ही यह दुनिया में प्रचलित हुई लेकिन अमेरिका के एक गणितज्ञ कहना है कि शून्य का आविष्कार भारत में नहीं हुआ था। अमेरिकी गणितज्ञ आमिर एक्जेल ने ‌सबसे पुराना शून्य कंबोडिया में खोजा है।

 कब हुआ जीरो का आविष्कार

लेकिन शून्य के अविष्कार को लेकर कुछ अलग तथ्य भी है की अगर शून्य का अविष्कार 5वीं सदी में आर्यभट्ट जी ने किया फिर हजारों वर्ष पूर्व रावण के 10 सिर बिना शून्य के कैसे गिने गए बिना शून्य के कैसे पता लगा कि कौरव 100 थे ऐसे कुछ अलग अलग बाते है लेकिन आज तक यही कहा जा रहा की शून्य का अविष्कार 5वीं सदी में आर्यभट्ट जी ने किया था |

तो दोस्तो कैसी लगी हमारी Zero का आविष्कार किसने किया यह जानकारी मुझे आशा है। कि आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी तो दोस्तो अगर आपको इसी से सम्बन्धित जानकारी चाहिए या फिर अन्य कोई भी जानकारी चाहिए तो नीचे दिए गए Comment Box के माध्मय से सूचना पहुचा सकते है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!