Shiv Aart । शिव जी की आरती हिन्दी में PDF Download

Shiv Aarti, Shiv Aarti in Hindi, Shiv Aarti Download PDF – हर हर महादेव दोस्तों आज हम आप लोगों के लिए Shiv Aarti लेकर उपस्थित हुए हैं जो की बहुत महत्वपूर्ण हैं भगवान शिव बहुत सारे नाम हैं लोग उनके कई नामों से जानता है तो कोई शिव जी कोई शंकर जी तो कोई भोले नाथ इत्यादि नामों से जानते हैं भगवान शिव जी की आरती व पूजा करने से शिव भक्तों को मनचाहे वरदान प्राप्त होते है तो आप लोग जरूर इस आरती को सुबह और शाम दिन में दो बार अवश्य करें। और नीचे दिए गए Shiv Aarti PDF को Download Button के माध्यम से आसानी से Download कर सकते हैं और आप अपने Mobile या Computer में Save करके जब चाहे पढ़ सकते हैं

Shiv aarti

Shiv Ji Aarti In Hindi

शिव जी की आरती हिंदी में

ॐ जय शिव ओंकारा……

एकानन चतुरानन पंचांनन राजे |

हंसासंन ,गरुड़ासन ,वृषवाहन साजे॥

ॐ जय शिव ओंकारा……

दो भुज चारु चतुर्भज दस भुज अति सोहें |

तीनों रुप निरखता त्रिभुवन जन मोहें॥

ॐ जय शिव ओंकारा……

अक्षमाला ,बनमाला ,रुण्ड़मालाधारी |

चंदन , मृदमग सोहें, भाले शशिधारी ॥

ॐ जय शिव ओंकारा……

श्वेताम्बर,पीताम्बर, बाघाम्बर अंगें |

सनकादिक, ब्रम्हादिक ,भूतादिक संगें

ॐ जय शिव ओंकारा……

कर के मध्य कमड़ंल चक्र ,त्रिशूल धरता |

जगकर्ता, जगभर्ता, जगसंहारकर्ता ॥

ॐ जय शिव ओंकारा……

ब्रम्हा विष्णु सदाशिव जानत अविवेका |

प्रवणाक्षर मध्यें ये तीनों एका ॥

ॐ जय शिव ओंकारा……

काशी में विश्वनाथ विराजत नन्दी ब्रम्हचारी |

नित उठी भोग लगावत महिमा अति भारी ॥

ॐ जय शिव ओंकारा……

त्रिगुण शिवजी की आरती जो कोई नर गावें |

कहत शिवानंद स्वामी मनवांछित फल पावें ॥

ॐ जय शिव ओंकारा…..

जय शिव ओंकारा हर ॐ शिव ओंकारा|

ब्रम्हा विष्णु सदाशिव अद्धांगी धारा॥

ॐ जय शिव ओंकारा……

Shiv Aarti In English

Om jai Shiv Omkara, Om jai Shiv Omkara|
Bhramha, Vishnu, Sdashiva, adaghi dhara|| Om Jai…

Ekanana, chaturanna, panchana raje|
hansanan, gharurasna, vrishvahan saje|| Om Jai…

Do bhuj char chatur bhuj, das bhuj ati sohe|
teeno rupa nirakhta, trivuban jaan mohe|| Om Jai…

Akshamala vana-mala, rudra-mala dhari|
chandan mirga maad sohe, bhole shubh kari|| Om Jai…

Shwetambar, pitambar, bhagambar ange|
sankadik, bhramhadik, bhootadik sanghee| Om jai…

Kar Men Madhya Kamandalu Chakra Trishool dharta|
Jagkarta Dukha harta, Jag Palankarta|| Om Jai…

Brahma, Vishnu, Sadashiv, Janat Aviveka|
Pranvakshar Ke Madhye, Yah Tinon Eka|| Om Jai…

Trigun Swamiji Ki Aarti Jo Koi Nar Gave|
Kahat Shivanand Swami, Manvanchhit Phal Pave|| Om Jai…

Shiv Ji Aarti PDF Download

Download Shiv Aarti PDF

तो दोस्तों यह रही हमारी Shiv Aarti की पूरी जानकारी हिन्दी में मुझे आशा होगी की आपको यह जानकारी बहुत ही अच्छी लगी होगी अगर आपको कोई और भी आरती चाहिए या फिर चालिसा या फिर अन्य कोई भी जानकारी चाहिए तो नीचे दिए गए comment Box के माध्यम से सूचना दे सकते हैं। और हम रोजाना आपलोगो के लिए भगवान की आरती लेकर आएगे जो की PDF के माध्यम से भी होगी जिसे आपलोग Download भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!