Hindi Varnamala – हिन्दी वर्णमाला (Hindi Grammar)

Hindi Varnmala – दोस्तों आज हम आप लोगों के लिए Hindi Grammar से सम्बन्धित पोस्ट लेकर आए हैं जिसे आप लोग ध्यान पूर्वक पढ़ें क्योंकि हिन्दी ग्रामर बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है इस पोस्ट में हम आप लोगों को हिन्दी वर्णमाला के बारे में बताने जा रहे हैं कि किस प्रकार स्वर का उच्चारण करना है और किस प्रकार इसका उपयोग करना हैं तो हम आपको इन सब के बारे में बताएंगे अगर आप किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे होगे तो आप लोगों को पता होगा कि हिन्दी ग्रामर कितना उपयोगी विषय है।

Hindi Varnmala

Hindi Varnmala

स्वर

हृस्व- अ, इ, उ, ऋ (4)

दीर्घ- आ, ई, ऊ, ए, ऐ, ओ, औ (7)

व्यंजन

स्पर्श- कवर्ग से पवर्ग तथा ड़, ढ़ (25+2) = 27

अंतःस्थ- य, र, ल, व (4)

ऊष्मा- श, ष, स, ह (4)

आगत- ज़, फ़ (2)

संयुक्त- क्ष, त्र, ज्ञ, श्र (4)

  • स्वर की संख्या    = 11
  • व्यंजन की संख्या = 41

हिन्दी वर्णमाला ः पुनर्विलोकन

जिन वर्णों का उच्चारण बिना किसी अवरोध के तथा बिना किसी दूसरे वर्ण की सहायता से होता है, उन्हें क्या कहते हैं – स्वर

जिन स्वरों के उच्चारण में कम समय लगता है, उन्हें क्या कहते हैं – हृस्व स्वर

जिस स्वरों के उच्चारण में हृस्व स्वरों से अधिक समय लगता है, उन्हें क्या कहते हैं – दीर्घ स्वर

  • हृस्व स्वर हैं – अ, इ, उ, ऋ
  • मूल स्वर हैं – अ, इ, उ, ऋ
  • दीर्घ स्वर हैं – आ, ई, ऊ, ए, ऐ, ओ, औ
  • आगत स्वर हैं – अॉ
  • अग्र स्वर हैं – इ, ई, ए, ऐ
  • मध्य स्वर हैं – अ
  • पश्च स्वर हैं – आ, उ, ऊ, ओ, औ, अॉ
  • संवृत स्वर हैं – ई, ऊ
  • अर्ध्द संवृत हैं – इ, उ
  • विवृत हैं – आ, ऐ, औ
  • अर्ध्द विवृत हैं – ए, अ, ओ, अॉ
  • व्यंजनों की संख्या – (41)
  • स्पर्श व्यंजनों की संख्या -(26)
  •  अंतःस्थ व्यंजनों की संख्या – (4)
  • ऊष्म व्यंजनों की संख्या – (4)

व्यंजनों का वर्गीकरण

  • आगात व्यंजनों की संख्या – (2)
  • संयुक्त व्यंजनों की संख्या – (4)
  • क- वर्ग ध्वनियाँ हैं – क्, ख्, ग्, घ, ङ
  • च- वर्ग ध्वनियाँ हैं – च्, छ्, ज्, झ्
  • ट- वर्ग ध्वनियाँ हैं – ट्, ठ्, ड्, ढ्, ण्,
  • त- वर्ग ध्वनियाँ हैं – त्, थ्, द्, ध्, न्
  • प- वर्ग ध्वनियाँ हैं – प्, फ्, भ्, म
  • अन्तःस्थ व्यंजन हैं – य, र, ल, व
  • अर्धस्वर हैं – य, व
  • लुंठित व्यंजन हैं – र
  • पार्श्विक व्यंजन हैं – ल
  • ऊष्मा- संघर्षी व्यंजन हैं – स, श, ष, ह
  • उत्क्षिप्त व्यंजन हैं – ड़, ढ़
  • अघोष व्यंजन हैं – प्रत्येक वर्ग के प्रथम और द्वितीय वर्ग तथा फ, श, ष, स
  • सघोष व्यंजन हैं – प्रत्येक वर्ग के तृतीय, चतुर्थ, पंचम वर्ग तथा ड़, ढ़, ज़, य, र, ल, व, ह
  • अल्प प्रणाम व्यंजन हैं – प्रत्येक वर्ग में प्रथम, तृतीय, पंचम वर्ग तथा अन्तःस्थ वर्ग
  • महा प्रणाम व्यंजन हैं – प्रत्येक वर्ग के द्वितीय व चतुर्थ वर्ग तथा ऊष्म वर्ग
  • नासिक्य व्यंजन हैं – ङ्, ञ्, ण्, न्, म्
  • कंठ व्यंजन हैं – क्, ख्, ग्, घ्, ङ
  • तालव्य व्यंजन हैं – च्, छ्, ज्, झ्, ञ्, श्, य्
  • मूर्धन्य व्यंजन है – ट्, ठ्, ड्, ढ्, ण, (ढ़), ष
  • दंत्य व्यंजन हैं – त्, थ्, द, ध्, न्
  • ओष्ठ्य व्यंजन हैं – प्, फ, ब्, भ्, म्
  • दंत्योष्ठ्य व्यंजन हैं – व्
  • स्वरयंत्रीय व्यंजन हैं – ह्

अनुप्रेक्षा

  • हिन्दी में मूलतः वर्णों की संख्या कितनी है। -52
  • क्ष वर्ण किसके योग से बना है? -क्+ ष्
  • कौन सा वर्ण उच्चारण की दृष्टि से दंत्य नहीं है? -ट
  • क वर्ण उच्चारण की दृष्टि से क्या है? -कंठ्य
  • वह छोटी से छोटी ध्वनि जिसके टुकड़े नहीं हो सकते, उसे क्या कहते हैं? -वर्ण
  • कंठ्य ध्वनियाँ कौन सी है? -क, ख
  • अयोगवाह वर्ण कौन से है? -अं, अः।
  • ए, ऐ वर्ण क्या कहलाते हैं? -कंठतालव्य
  • अघोष वर्ण कौन सा है? -स (महाप्राण)
  • य, र, ल, व किस प्रकार के व्यंजन हैं? -अन्तःस्थ
  • हिन्दी वर्ण माला में स्वरों की कुल संख्या कितनी है -11
  • हिन्दी की श ध्वनि है – तालव्य   -अघोष (महाप्राण)

Read more

Ras in Hindi रस की परिभाषा भेद, उदाहरण सहित ( Hindi Grammar)

Aditya Publication samanya Hindi PDF Download

Hindi Typing Chart PDF हिन्दी टायपिंग कीबोर्ड लेआउट Download

MP GK PDF 2019 Download (मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान PDF Download)

Tatsam Tadbhav – तत्सम तद्भव की परिभाषा भेद एवं उदाहरण

Suffix In Hindi – प्रत्यय की परिभाषा भेद और उदाहरण

Upsarg in Hindi-उपसर्ग की परिभाषा भेद और उदाहरण [Prefix In Hindi]

Kriya in Hindi-क्रिया की परिभाषा भेद एवं उदाहरण (Verb in Hindi) Hindi Grammar

Paryayvachi Shabd {पर्यायवाची शब्द} in Hindi Grammar

Sangya in Hindi – संज्ञा की परिभाषा भेद एवं उदाहरण

Vilom Shabd in Hindi (विलोम-शब्द)

Anekarthi Shabd (अनेकार्थी शब्द) Hindi Grammar

Hindi Proverbs । महत्वपूर्ण मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ (Hindi Grammar)

One Word Substitution (अनेक शब्दों के लिए एक शब्द) Hindi Grammar

Alankar in Hindi – अलंकार की परिभाषा भेद और उदाहरण

तो दोस्तों कैसी लगी हमारी Hindi Varnmala यह पोस्ट आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट काफी पसंद आई होगी तो आप लोग इस पोस्ट को अपने मित्रों के साथ भी शेयर कर सकते हैं और अगर आपको इससे सम्बन्धित जानकारी चाहिए या अन्य जानकारी चाहिए तो नीचे दिए गए Comment Box के माध्यम से Comment कर सकते हैं।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!